Breaking News
You are here: Homeविचार मंचबद्दतर हालात में है प्रिंट मीडिया, सरकार खामोश!

बद्दतर हालात में है प्रिंट मीडिया, सरकार खामोश!

Written by  तरुणा एस गौड़ Published in Opinion Sunday, 29 July 2012 10:00

मेरी मुलाकात हाल ही में एक एलैक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार से हुई। ईमानदार पत्रकार ने मीडिया कुछ कर गुजरने के लिये ज्वाइन किया था लेकिन कम्पनी के अधिकार दूसरी कम्पनी को बेच दिया जाने के बाद चैनल में घोर अव्यव्स्था फैल गई। यहां नाम लेना जरूरी नहीं है कि वो कौन सा चैनल है। जरूरी है यह बताना जो उस पत्रकार ने बयान किया।

 

पत्रकार ने बताया कि जब वो कवरेज करने जाते थे तो एक कम प्रसार (लघु) वाले अखबार के ब्योरो चीफ को प्रेस कॉंफ्रेंस के बाद दिये जाने वाले भोज और गिफ्ट परम्परा में खाने की लाइन में लगे और गिफ्ट के लिये ललचाते देखते।

 

उन्हे बहुत गुस्सा आता कि आखिर ये पत्रकारिता क्यों कर रहे हैं कहीं कमीशन एजेंट काम क्यों नहीं कर लेते।

 

लेकिन हकीकत जब सामने आई तो बहुत दहला देने वाली थी। ये ब्योरो चीफ 1500 रूपये मासिक पर रखे गये थे वो वेतन भी 3 महीने से नहीं मिला था। घर में बच्चे परिवार सब..... मुझे नहीं लगता कि अब आगे कुछ कहने की जरूरत है।

 

आखिर रीजनल मीडिया दुर्दशा का शिकार है। एक और उदाहरण देना चाहती हूं फेसबुक पर एक सीनिइयर रिपोर्टर ने शेयर किया, “सुबह होते ही एडिटर ने एसाइनमेंट पकड़ाया जाओ शुगर मिल में हो रही हड़ताल को कवर करो और वेतन के लिये भूख हड़ताल कर रहे मजदूरों पर शाम तक एक ऐसी मार्मिक स्टोरी लिखो जो लोगों को हिला कर रख दे।रिपोर्टर चल दिये और अपना काम पूरा किया। शाम को घर लौटते हुए सुबह पत्नी का दिया पर्चा याद आ गया। उसमे लिखे काम को पूरा करने के लिये उनके पास पैसे नहीं थे। पर्चे में बच्चों की स्कूल नोटबुक, घर के लिये राशन और बीमार मां की दवाइयां थी। दवाइयों के अलावा वो कुछ नहीं खरीद सके क्योंकि उनका अपना वेतन खुद 3 महीनों से नहीं मिला था।

 

ये दोनो घटनाएं कहानी नहीं है भारतीय मीडिया की कड़वी हकीकत हैं। ये समस्याये अगर आपको किसी और प्रोफेशन में आती हैं तो आप उसे छोड़ कर दूसरा तीसरा प्रोफेशन अपना सकते हैं। क्योंकि वहां आपका लक्ष्य यानि परिवार का भरण पोषणपूरा हो ही जायेगा। लेकिन पत्रकारिता को अपनाने वाले जूनूनी लोगों को कहां चैन मिलेगा......!

 

क्रमश:......

Read 2026 times Last modified on Saturday, 10 March 2018 13:11

Leave a comment

  • gta vice city download for windows 7
    gta vice city download for windows 7
    Thursday, 08 November 2018 16:16

    standard parts you happen to be familiar with but might not know how to utilize properly, along with other unique offerings in the car that ensure it is more hard to.

  • FORTNITE HACK MAC DOWNLOAD - FORTNITE CHEAT FREE DOWNLOAD
    FORTNITE HACK MAC DOWNLOAD - FORTNITE CHEAT FREE DOWNLOAD
    Thursday, 08 November 2018 15:47

    obviously like your web site but you have to take a look at the spelling on quite a few of your posts. Several of them are rife with spelling issues and I in finding it very troublesome to inform the truth then again I’ll definitely come back again.

  • truck accident lawyers
    truck accident lawyers
    Thursday, 08 November 2018 14:06

    Really appreciate you sharing this blog.Really thank you! Really Great.

  • Zeworld Series
    Zeworld Series
    Thursday, 08 November 2018 09:55

    Very good article post.Really looking forward to read more. Fantastic.

  • KillerFitAthletics
    KillerFitAthletics
    Thursday, 08 November 2018 09:28

    Right now it looks like BlogEngine is the best blogging platform out there right now. (from what I ave read) Is that what you are using on your blog?

  • Page not found
    Page not found
    Wednesday, 07 November 2018 23:46

    Its like you read my mind! You seem to know a lot about this, like you wrote the book in it or something. I think that you can do with some pics to drive the message home a bit, but instead of that, this is fantastic blog. A fantastic read. I'll definitely be back.

  • gta san andreas download pc
    gta san andreas download pc
    Wednesday, 07 November 2018 21:00

    Thanks, I have recently been seeking for facts about this subject for ages and yours is the best I ave discovered so far.

  • free pc games download
    free pc games download
    Wednesday, 07 November 2018 09:03

    I think this is a real great article.Much thanks again. Will read on

  • Darablog.com.ng
    Darablog.com.ng
    Wednesday, 07 November 2018 08:23

    There as definately a great deal to know about this subject. I love all of the points you have made.

  • hoi dap viet
    hoi dap viet
    Tuesday, 06 November 2018 15:13

    Thank you for your blog post. Fantastic.

फोटो गैलरी

Market Data

एडिटर ओपेनियन

IPL की साख पर सवाल गलत: श्रीनिवासन

IPL की साख पर स...

नई दिल्ली।। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड...

अरुणाचल की तीरंदाजों को चीन ने दिया नत्थी वीजा!

अरुणाचल की तीरं...

नई दिल्ली।। अरुणाचल प्रदेश की दो नाबालिग...

Video of the Day

Right Advt

Contact Us

  • Address: Village , Jhagrarpar Part - 1 , P.O : Jhagrarpar , P.S & Dist. Dhubri (Assam) , Pin: 783325
  • Tel: +(91) 9706205976
  • Email:  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.  
  • Website: http://doornitirdarpan.com/

About Us

DOORNITIR DARPAN is one of the renowned newspaper in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘DOORNITIR DARPAN’ is founded by Mr Sayed Ali Khan.