Breaking News
You are here: Homeविचार मंचबद्दतर हालात में है प्रिंट मीडिया, सरकार खामोश!

बद्दतर हालात में है प्रिंट मीडिया, सरकार खामोश!

Written by  तरुणा एस गौड़ Published in Opinion Sunday, 29 July 2012 10:00

मेरी मुलाकात हाल ही में एक एलैक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार से हुई। ईमानदार पत्रकार ने मीडिया कुछ कर गुजरने के लिये ज्वाइन किया था लेकिन कम्पनी के अधिकार दूसरी कम्पनी को बेच दिया जाने के बाद चैनल में घोर अव्यव्स्था फैल गई। यहां नाम लेना जरूरी नहीं है कि वो कौन सा चैनल है। जरूरी है यह बताना जो उस पत्रकार ने बयान किया।

 

पत्रकार ने बताया कि जब वो कवरेज करने जाते थे तो एक कम प्रसार (लघु) वाले अखबार के ब्योरो चीफ को प्रेस कॉंफ्रेंस के बाद दिये जाने वाले भोज और गिफ्ट परम्परा में खाने की लाइन में लगे और गिफ्ट के लिये ललचाते देखते।

 

उन्हे बहुत गुस्सा आता कि आखिर ये पत्रकारिता क्यों कर रहे हैं कहीं कमीशन एजेंट काम क्यों नहीं कर लेते।

 

लेकिन हकीकत जब सामने आई तो बहुत दहला देने वाली थी। ये ब्योरो चीफ 1500 रूपये मासिक पर रखे गये थे वो वेतन भी 3 महीने से नहीं मिला था। घर में बच्चे परिवार सब..... मुझे नहीं लगता कि अब आगे कुछ कहने की जरूरत है।

 

आखिर रीजनल मीडिया दुर्दशा का शिकार है। एक और उदाहरण देना चाहती हूं फेसबुक पर एक सीनिइयर रिपोर्टर ने शेयर किया, “सुबह होते ही एडिटर ने एसाइनमेंट पकड़ाया जाओ शुगर मिल में हो रही हड़ताल को कवर करो और वेतन के लिये भूख हड़ताल कर रहे मजदूरों पर शाम तक एक ऐसी मार्मिक स्टोरी लिखो जो लोगों को हिला कर रख दे।रिपोर्टर चल दिये और अपना काम पूरा किया। शाम को घर लौटते हुए सुबह पत्नी का दिया पर्चा याद आ गया। उसमे लिखे काम को पूरा करने के लिये उनके पास पैसे नहीं थे। पर्चे में बच्चों की स्कूल नोटबुक, घर के लिये राशन और बीमार मां की दवाइयां थी। दवाइयों के अलावा वो कुछ नहीं खरीद सके क्योंकि उनका अपना वेतन खुद 3 महीनों से नहीं मिला था।

 

ये दोनो घटनाएं कहानी नहीं है भारतीय मीडिया की कड़वी हकीकत हैं। ये समस्याये अगर आपको किसी और प्रोफेशन में आती हैं तो आप उसे छोड़ कर दूसरा तीसरा प्रोफेशन अपना सकते हैं। क्योंकि वहां आपका लक्ष्य यानि परिवार का भरण पोषणपूरा हो ही जायेगा। लेकिन पत्रकारिता को अपनाने वाले जूनूनी लोगों को कहां चैन मिलेगा......!

 

क्रमश:......

Read 2029 times Last modified on Saturday, 10 March 2018 13:11

Leave a comment

  • cv writing service reviews
    cv writing service reviews
    Monday, 29 October 2018 15:35

    My spouse and I stumbled over right here different site and believed I really should examine points out.

  • Free Instagram followers
    Free Instagram followers
    Saturday, 27 October 2018 19:26

    This is a really good tip especially to those new to the blogosphere. Short but very precise info Many thanks for sharing this one. A must read post!

  • nnu
    nnu
    Saturday, 27 October 2018 17:34

    Thanks for sharing this very good piece. Very inspiring! (as always, btw)

  • to learn more
    to learn more
    Saturday, 27 October 2018 01:49

    You are my inhalation , I own few blogs and rarely run out from to brand.

  • Make Money online
    Make Money online
    Friday, 26 October 2018 12:17

    What as up everyone, it as my first visit at this web page, and piece of writing is really fruitful designed for me, keep up posting these content.

  • clean agent fire extinguisher
    clean agent fire extinguisher
    Friday, 26 October 2018 11:40

    Pretty! This has been an extremely wonderful article. Thanks for providing this info.

  • Easy Cellar Plan
    Easy Cellar Plan
    Friday, 26 October 2018 09:50

    This unique blog is no doubt interesting additionally diverting. I have picked up many handy things out of this source. I ad love to go back again and again. Thanks a lot!

  • Jamaica best shopping website
    Jamaica best shopping website
    Friday, 26 October 2018 08:01

    we prefer to honor quite a few other net web-sites on the net, even though they aren

  • softwarekabaap.com
    softwarekabaap.com
    Thursday, 25 October 2018 22:17

    You are my breathing in, I own few web logs and occasionally run out from brand . Analyzing humor is like dissecting a frog. Few people are interested and the frog dies of it. by E. B. White.

  • softwarekabaap.com
    softwarekabaap.com
    Thursday, 25 October 2018 22:02

    Subscribe to online newsletters from the major airlines. The opportunity savings you all enjoy will a lot more than replace dealing with more pieces of your email address contact information.

फोटो गैलरी

Market Data

एडिटर ओपेनियन

IPL की साख पर सवाल गलत: श्रीनिवासन

IPL की साख पर स...

नई दिल्ली।। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड...

अरुणाचल की तीरंदाजों को चीन ने दिया नत्थी वीजा!

अरुणाचल की तीरं...

नई दिल्ली।। अरुणाचल प्रदेश की दो नाबालिग...

Video of the Day

Right Advt

Contact Us

  • Address: Village , Jhagrarpar Part - 1 , P.O : Jhagrarpar , P.S & Dist. Dhubri (Assam) , Pin: 783325
  • Tel: +(91) 9706205976
  • Email:  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.  
  • Website: http://doornitirdarpan.com/

About Us

DOORNITIR DARPAN is one of the renowned newspaper in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘DOORNITIR DARPAN’ is founded by Mr Sayed Ali Khan.